IIT मुंबई, बीएमसी और रेल्वे के ऑडीट दल ने सीएसटी FOB ऑडीट में लापवाही बरती!

A CST Bridge
 
एलफिस्टनआ पूल और अंधेरी में गोखले पुल गिरने के बाद बीएमसी, IIT- मुंबई और रेल्वे मुंबई के कुल 445 FOB/ROB पुलों का साझा ऑडिट किया था। जिसमे कई पुलों को तोड़कर नए सिरे से बनाने का सुझाव दिया गया था। और कई पुलों को मरम्मत का सुझाव दिया दिया गया था। आज सी एसटी स्टेशन के पास जो पादचारी पुल गिरा उसका भी ऑडिट, ऑडिट दल ने किया था, परन्तु ऑडिट दल से सही से ऑडिट नहीं किया जिसकी वजह से आज पुल गिरने से कई लोग घायल हुए और कुछ लोगों की जान गयी है। जबकि इस पुल का निर्माण वर्ष 1984 में हुवा था। 
 
आरटीआय कार्यकर्ता शकील अहमद शेख ने मुंबई उपनगरीय रेल पटरियों के ऊपर कुल कितने FOB/ROB पुल है। उनका निर्माण कब हुवा है। पुलों का निरिक्षण करने लिए कुल कितने पुल निरीक्षक है।  और पुल निरीक्षक के पास कितने पुल निरिक्षण करने की जिम्मेदारी है। इस सन्दर्भ में मध्ये रेलवे के सुचना अधिकारी एसके श्रीवास्तव ने जानकारी उपलब्ध कराई है। जानकारी के अनुसारी सीएसटी से कर्जत और कसारा के बीच कुल 71 ROB है। और 163 FOB है पश्चिम रेलवे पर चर्चगेट से सूरत के बीच कुल 146 FOB है. एवं कुल 46 ROB है। और अलग से कोई पुल निरीक्षक नहीं है. कई पुल तो 200 सालो से ज्यादा पुराने है. और जर्जर हालत में है। 
 
और आज सीएसटी में पादचारी पुल गिरा है उसका निर्माण 1984 में हुवा था। अगर बीएमसी, IIT- मुंबई और रेल्वे ऑडिट किया था तो पुल गिरा कैसे। ऑडिट दल पुल जर्जर होने का पता क्यूँ नहीं चला?
 
ऑडिट दल ने FOB/ROB को मरम्मत और तोड़ने का सुझाव की सूची
 
१) येलो गेट FOB मस्जिद पूर्व 
 
२) एमके रोड चंदनवाड़ी FOB मरीन लाइंस
 
३) एमके रोड चंदनवाड़ी FOB RLY मरीन लाइंस
 
४) हंसा भुगरा मार्ग पाईप BRIDGE
 
५) एसबीआई कॉलोनी, BRIDGE
 
६) गाँधी नगर कुरार गाँव, BRIDGE
 
७) वालभात नाला गोरेगांव, BRIDGE
 
८) रामनगर चौक, दहिसर, BRIDGE
 
९) विट्ठल मंदिर, दहिसर, BRIDGE
 
१०) एसव्हीपी रोड, दहिसर BRIDGE
 
११) अकुर्ली रोड, दहिसर, BRIDGE
 
१२) हरी मस्जिद, साकीनाका, BRIDGE
 
१३) तिलक नगर, FOB RLY
 
१४) बर्वे नगर, घाटकोपर FOB

Comments   

0 #1 MelanieBig 2019-03-15 19:09
Hi. I have checked your newsmantra.in and i see you've got some
duplicate content so probably it is the reason that you don't rank high in google.
But you can fix this issue fast. There is a
tool that creates content like human, just search in google:
miftolo's tools
Quote

Add comment


Security code
Refresh