पर्रिकर का जाना गोवा ही नही देश का नुकसान

पर्रिकर का जाना गोवा ही नही देश का नुकसान हमेशा मुस्कुराते और हंसी मजाक करने वाले मनोहर पर्रिकर का जाना केवल गोवा का नही देश का नुकसान है । पर्रिकर की समझ और कमिटमेंट सचमुच बहुत कम नेताओं में होता है । मुम्बई आई आई टी से इंजीनियरिंग करने वाले पर्रिकर को जब गोआ से देहली बुलाया जा रहा था तब मेरी मुलाकात गोआ सदन में हुई साथ में पर्रिकर के करीबी दोस्त संजीव देसाई भी थे । हमने बहुत देर बात की । पर्रिकर को लगता था कि देहली बहुत चतुर सूजन नेताओ के लिए है वो तो बहुत सादगी भरे है ऊपर से रक्षा मंत्रालय वैसे भी बहुत से गलियारो वाला है । हमने कहा कि ये शुरुआत है आगे देश की लीडर शिप तक जाना है । सचमुच पर्रीकर में देश की लीडरशिप करने की ताक़त थी

Add comment


Security code
Refresh